बरामद किये सामान समेत पुलिस पार्टी।

बंद पड़े शैलर में से 370 पेटियाँ शराब बरामद, अलग-अलग ब्रांड के लेबल, होलोग्राम और खाली बोतलें भी मिली

-बनूड़ के नज़दीक दो ढाबों से नकली शराब बनाने के लिए 78 ड्रंमों में पड़ा 14200 लीटर ई.ऐन.ए. एवं और रसायन भी किया बरामद

-अब तक पंजाब की सब से बड़ी बरामदगी, मुख्य दोषी भी नामज़द करके गिरफ़्तार किये

-8 गिरफ़्तार, 4 भागने में हुए कामयाब, जल्द किये जाएंगे काबू -ए.आई.जी. धनोआ

राजपुरा/बनूड़ : एक्साइज विभाग, कर विभाग और ज़िला पुलिस ने एक सांझा आप्रेशन करके नकली शराब बनाने के काले कारोबार का पर्दाफ़ाश किया है। इस सांझी कार्रवाही के दौरान भोगला रोड राजपुरा में एक बंद पड़े शैलर में से 370 पेटियाँ शराब बरामद हुई है। यह शराब अलग-अलग ब्रांडों की है, जबकि इस शराब के इलावा यहाँ से अलग-अलग ब्रांडों के लेबल, खाली बोतलें भी मिलीं हैं। यह जानकारी ए.आई.जी. एक्साईज पंजाब स. गुरचैन सिंह धनोआ ने दी।

स. धनोआ ने बताया कि सांझी टीम की तरफ से इस बरामदगी के बाद बनूड़ के नज़दीक पटियाला ढाबा और झिलमिल ढाबे पर की छापेमारी के दौरान नकली शराब बनाने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले समान समेत 78 ड्रंम ई.ऐन.ए. (एक्स्ट्रा न्यूटरल अल्कोहल -14200 लीटर) और कुछ ओर रसायनिक पदार्थ, लेबल होलोग्राम और खाली बोतलें भी मिली हैं। उन्होंने बताया कि यह अब तक की पंजाब की सबसे बड़ी बरामदगी है। उन्होंने बताया कि इन दोनों मामलों में 8 गिरफ़्तारियाँ हुई हैं और 4 आरोपी भागने में कामयाब रहे हैं, परंतु पुलिस की तरफ से इनको भी जल्द ही गिरफ़्तार कर लिया जायेगा।

आबकारी पुलिस के ए.आई.जी. स. गुरचैन सिंह धनोआ ने बताया कि आबकारी और कर कमिशनर श्री विवेक प्रताप सिंह, आई.जी.पी. आबकारी पंजाब स. अमर सिंह चाहल के दिशा निर्देशों के अंतर्गत ज़िला पुलिस प्रमुख स. मनदीप सिंह सिद्धू की रहनुमाई में यह कार्रवाही की गई। उन्होंने बताया कि एस.पी. एक्साईज स. प्रितीपाल सिंह गिल, डी.एस.पी. एक्साईज स. तेजिन्दर सिंह धालीवाल, डी.एस.पी. राजपुरा स. ए.एस. औलख, इंस्पेक्टर गुरचरन सिंह और ई.टी.ओ. श्री विनोद पहूजा, आबकारी इंस्पेक्टर स. रूपइन्दर सिंह संधू की टीमों ने भोगला रोड पर बंद पड़े शैलर पर छापेमारी करके 370 पेटियाँ शराब बरामद की।

स. धनोआ ने बताया कि 370 पेटियों की बरामदगी मामले में थाना खेड़ी गंडिया में एफ.आई.आर. नंबर 72 तारीख़ 10 अगस्त 2019 के अधीन धारा 420, 468, 471 आई.पी.सी और 61 /1/14 आबकारी एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज किया है। इस मामले में जतिन्दर चलाना निवासी गुड़गाओ, राम प्रसाद, सौरव (गिरफ़्तार) समेत अलोक गुप्ता उर्फ निशु गुप्ता नामज़द किये गए हैं।

ए.आई.जी. धनोआ ने बताया कि बनूड़ के नज़दीक दो ढाबों से बरामद किये गए एक्स्ट्रा न्यूटरल अल्कोहल के 78 ड्रंमों में 14200 लीटर ई.ऐन.ए है और इसके एक लीटर से 425 लीटर नकली शराब बन सकती है। उन्होंने बताया कि यह अब तक की पंजाब की सब से बड़ी बरामदगी है। उन्होंने बताया कि इस मामले में मुख्य दोषियों को नामज़द करके गिरफ़्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि यह व्यक्ति काफ़ी समय से नकली शराब बनाने का धंधा करते थे।

स. धनोआ ने बताया कि इनके पास से महिंद्रा पिकअप गाड़ी ई.ऐन.ए. ड्रंमों से भरी हुई बरामद हुई और एक इंडिया विस्टा गाड़ी भी बरामद हुई। इस मामले में 9 व्यक्तियों के विरुद्ध थाना बनूड़ में ऐफ.आई.आर. नंबर 86 तारीख़ 11 अगस्त 2019 धारा 420, 468, 471 आई.पी.सी. और आबकारी एक्ट की धारायें 61 /1/14 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है, जिनमें से 5 को गिरफ़्तार कर लिया और बाकी को जल्द गिरफ़्तार किया जायेगा।

ए.आई.जी. एक्साईज ने बताया कि पटियाला ढाबे के मालिक जगतार सिंह पुत्र बचन सिंह, खानपुरा के निवासी प्रदीप सिंह पुत्र सुरिन्दर सिंह, शेखनमाजरा निवासी जगदीप सिंह दीपा पुत्र लेट रघबीर सिंह, झिलमिल ढाबे का मालिक जंगपुरा निवासी संगत सिंह पुत्र लेट जोगिन्द्र सिंह और बुढ्ढनपुर निवासी कुलदीप सिंह पुत्र उजागर सिंह गिरफ़्तार हुए हैं। जबकि रामनगर निवासी दविन्दर उर्फ बलवान पुत्र अमरजीत सिंह, जंगपुरा निवासी परमजीत सिंह गग्गी पुत्र संगत सिंह और बुढ्ढनपुर निवासी जगदीप सिंह उर्फ सरपंच फ़रार हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here