बिहार के पूर्व मुख्य-मंत्री लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले में ज़मानत पर बाहर आए हुए हैं। इस दौरान वह बुधवार को राँची पहुँचे। जानकारी के अनुसार उनको इलाज के लिए ज़मानत मिली हुई है। उन्होंने आज 30 अगस्त को कोर्ट में सरेंडर करना है। उधर राँची में एयरपोर्ट पर नेताओं ने लालू प्रसाद का स्वागत किया। बता दें कि चारा घोटाले में बिहार के पूर्व मुख्य-मंत्री लालू प्रसाद यादव गुरूवार को सीबीआई कोर्ट में सरेंडर करेंगे। 

इसदे बाद यह तय होगा कि वह बिरसा मुंडा जेल भेजे जाएंगे या फिर रिमज़ में भर्ती होंगे। झारखंड हाईकोर्ट ने 25 अगस्त को लालू यादव की प्रोविजनल बेल का समय तीन महीने से बढ़ाने की अपील को खारिज करते हुए 30 अगस्त तक सरेंडर करने का आदेश जारी किया था। चारा गड़बड़ी मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद बुधवार को राँची पहुँचे। अब उनको इलाज के लिए मिली बेल का समय ख़त्म हो गया है।

जानकारी के अनुसार हाईकोर्ट के आदेश के बाद गुरूवार को वह सीबीआई के विशेष कोर्ट में सरेंडर करेंगे। कोर्ट में तय होगा कि लालू को रिमज़ भेजा जाये या बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल। प्रधानमंत्री नरिन्दर मोदी को तानाशाह करार देते हुए लालू ने कहाकि देश गलत हाथों में चला गया है। हालात बद से भी अधिक बदतर हो रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि मुझे फसाया गया है, अब पत्नी–बच्चों को भी फसाया जा रहा है। लालू ने कहाकि यह प्रोपगंडा फैलाया जा रहा है कि मोदी को जान का ख़तरा है, कोई बताए तो ठीक, आख़िर ख़तरा किससे है? कोई प्रमाण तो दो।

ऐसा भी प्रधानमंत्री क्या जो किसी से डर जाये। देश में तानाशाही बढ़ रही है। सरकार के ख़िलाफ़ बयानबाजी करने वाले बुद्धिजीवियों को माओवादियों के नाम पर फसाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राजद किसी भी स्तर पर हिंसा का समर्थन नहीं करता है। राहुल गांधी, ममता बनर्जी, मायावती समेत और नेता इस मसले पर चर्चा करेंगे। समय पर सब होगा। लालू ने ये भी कहाकि कोर्ट के आदेश पर वह राँची पहुँचे हैं। अभी भी वह 50 फीसद रोगी हैं। मोतियाबिन्द, किडनी, प्रोस्टेट, दिल का रोग समेत कई तरह के इंफैकशन से पीडित हैं। अटल बिहारी वाजपायी को भी इंफैकशन था। एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के डाक्टरों ने रिमज़ के डाक्टरों के संपर्क में रहने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here