आधारशिला स्कूल मे धूमधाम से मनाया गया बैसाखी का पर्व 

 

 

राजपुरा: आधारशिला स्कूल मे बैसाखी का उत्सव बङे धूमधाम से मनाया गया। यह कार्यक्रम विद्यार्थियों द्वारा बङे जोर-शोर के साथ पेश किया गया। इस अवसर पर सारे स्कूल को कनक की बालियों तथा फूलों के साथ सजाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत सिक्खी पहरावे में (वाहे गुरु अपनी मेहर कर) शब्द द्वारा की गई। नन्हे-मुन्ने बच्चे जट्ट तथा जट्टी के रूप में जिन्हे देखकर सभी अत्यधिक प्रसन्नचित्त हुए। विद्यार्थियों द्वारा पंजाबी सभ्याचार को पेश करते हुए लोकनृत्य गिददा तथा भांगङा पेश किया गया। इसके बाद विद्यार्थियों ने बैसाखी के त्योहार से संबंधित विचार पेश करते हुए बताया कि बैसाखी हिन्दुओ के नववर्ष का पहला दिन माना जाता है, इस दिन गुरु गोबिंद सिंह जी ने 1699 मे खालसा पंथ की नींव रखी थी। तब से सिख धर्म मे बैसाखी का त्योहार एक धार्मिक त्योहार बन गया। इस अवसर पर स्कूल प्रिन्सिपल ने समस्त विद्यार्थियों तथा स्टाफ को कार्यक्रम की सराहना करते हुए जलियांवाला बाग के दर्दनाक दृश्य के बारे मे बताया गया तथा कहाकि हमे बैसाखी वाले दिन उन शहीदों को भी याद करना चाहिए। जिन्होंने जलियांवाला बाग मे अपनी जान कुर्बान की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here